Sunday, November 1, 2015

बिमा और लुगाई

मै कल ही,
अपने एक मित्र से मिला
पेशे से वह बिमा एजेंट है,
मिलते ही उसने
बिमा की रपट लगायी |

मैंने पूछा की
क्या कोई नयी स्कीम है आयी,
वे मुस्कुराकर बोले
सबसे बड़ी स्कीम,
तो है लुगाई |

मै चकराया,
तो उन्होंने समझाया,
घबराओ मत भाई,
मै भी था कंगाल हो गया मालामाल,
जब से तय हुई है मेरी सगाई |

शादी से पहले लाखो दहेज पाओ,
फिर ढेरों उपहार,
मिलते रहेंगे सदा रिटर्न,
जबतक सथ रहे लुगाई |

जल्द ही खोज लो,
ससुराल नामक बिमा कम्पनी,
कयोंकि कोई भी इतना रिटर्न नहीं देता
जितना देती है लुगाई |
Post a Comment