Monday, May 7, 2018

मैंने भी प्यार किया था

Love

जी हां हमको भी प्यार हुआ था,
उम्र 15  साल।
कद छोटा, रंग काला और थोड़ा मोटा,
जब पड़ा था इश्क का अकाल।।

जब फिल्मो के हीरो अमिताभ,
और विलेन था सकाल।
और जब मै नाई से,
कटवा रहा था अपने बाल।।

जब मै बाल कटवा रहा था,
तभी वहा बवाल।
नाई थोड़ा घबराया,
बाल की जगह कट गया मेरा गाल।।

मै भी जिज्ञासा वस बाहर आया,
तो देखा नया बवाल।
दो प्रेमी मित्र मना रहे थे,
नया-नया साल।।

दोनों ने एक दुसरे को कसके पकड़ा था,
तब मुझे आया एक ख्याल।
लोगो ने किया था,
उनको देखकर लोगो ने किया था बवाल।।

लेकिन उस बवाल को देखकर,
मेरे मन में आया प्यार का ख्याल।
मैंने भी प्यार करने की ठानी,
लेकिन मेरे मन में आया एक सवाल।।

मैंने अपने स्कूल में ही,
कर दिया बवाल।
स्कुल में देखा एक नया माल।।

मैंने फ्लट किया,
बड़े सुन्दर है आपके बाल ।
लगते है हमेशा,
संसद में लटके हुए लोकपाल।।

मैंने आगे झूठ बोला,
आपके सुन्दर और फुले हुए गाल।
कराते है मेरे मन में हमेशा,
कश्मीर जैसा बवाल।।

मैंने किया प्रेम का इजहार,
तो उसने कर दिए मेरे गाल लाल।
फिर वहा खड़े लोगो ने पिटा,
फिर उसने पूछा एक सवाल।।

वैसे तुमने किया क्या था,
जो उसने किया बवाल।
जो इन बेरहम लोगो ने कर दिया,
तेरा यह बुरा हाल।।

मैंने उन्हें बताया,
करना चाहा प्यार कर दिया यह हाल।
अरे अभी तेरी उम्र ही क्या है,
खुद को पागल बनने से  संभाल।।

Post a Comment

Labels

15 August 15 अगस्त Aaj ka media aaj ka prem Abhigyan Shakuntalam Abortion About My Life adbhut bharat ajab gajab arise AUTHOR ayodhya Baby bachapana bachcha bachpan bachpana bal kavita Baris bebasi bedbug best friend bhagvan Bharat Bhrashtachar Bima Aur Lugai blog blogger blogger's blogger's day blogging book cartoon Chalo Siyasat Kar Aaye child Childhood childhood friends children chunav clean Clean India clean india campaign cloth Cold comman man computer corrupt Corruption country cow Dadaji Dahej Daughter day desh ke bhavishya digital Digital India din ke taare Dipawali dish Diwali diya dost dosti Dowry dream dream home dukh Durvasha early marriage eat education election Father fetal death first love friend friendship future Gajal game Garmi gau gau hatya gau mata Geet Ghar girl god Grandfather Grandpa great india Great Indian green greenery grief gst gst tax ham hai sath-sath Ham Kaise Jiye happiness happy happy labor day hariyali hell Hindi hindi blog Hindi Kavita Manch hindi poem hindi poetry hindi song home house husband I & ME Idol incredible india Independence Day india Indian Indian daughter indian media infant death insect Insurance internet intolerance in India Intolerance VS Tolerance introduction kabhi has bhi liya karo Kabhi Socha Na Tha kahani Kalidas kapda kavita kavya Sangrah keetab khatmal khatta-mitha khilauna khushi krinsha kya pata hai tumhe labour labour day leader Life light lord Love ma Ma - II ma ke garbh me tha mahphuj Ma tere jane ke bad Maa Maa Bhartee mai aur mere khatmal mitra maine bhi pyar kiya tha majboori majdoor makan man Marriage mata mathura media mera bachpan mera khilauna Mera Parichay Mere Dadaji mere man kee meremankee meri duniya meri maa meri pahali dost Mitti Ke Diye mobile modi mom moon Mother my bedbug friends My Childhood my dream my first friend my friend my grandfather my iron man my life my love my mother my smart phone my world Nari Nari Ek Bebasi Nari Shakti Nature neta night online gatha padhayee pahli khushee Party parv plant play playing game Poem poem on love poem on Marriage poem on married man poem on song poems on child poems on computor poems on gadget poems on me poems on mobile poems on mother poems on orphan POET Poetry poetry on love poetry on marriage poetry on mother poetry on TV political condition politician politics power prabhu prakash prakash parv Prakruti rain ram rape victims relation relationship Rishabh Shukla rishta roti sad sadness Sangrah Sapano Ka Ghar sarv shiksha abhiyaan school Shadishuda aadami ki halat shahar Shukantala smartphone social songs Sour Sour-Sweet story Summer sun sun rise swachch bharat Sweet T.V. tax Thand TIME today's love together trouble TUM SAHTE JANA TV udayachal unity video we are together We Great Indian weather who am I Wife Women Women Empowerment women helplessness Women Power world world labour day WRITER yamraj youth youtube अतुल्य भारत अद्भुत भारत असहिष्णुता व सहिष्णुता आज का प्रेम आज का मिडिया उदयाचल ऋषभ शुक्ला एक प्रार्थना यमराज से ऑनलाइन गाथा कभी सोचा ना था कभी हँस भी लिया करो कविता कान्हा किताब खट्टा - मीठा गधा गीत गौ माता चलो सियासत कर आये टीवी और मेरा बचपन डिजिटल इंडिया तुम सहते जाना दुःख देश के भविष्य दोस्त नारी एक बेबसी नारी शक्ति नेता पहली खुशी पार्टी में जाने के नियम पुस्तक प्रकृति बचपन बचपना बिमा और लुगाई भगवान भारत भ्रष्टाचार मजदूर माँ मां के गर्भ में था महफूज मिट्टी के दिये मेरा खिलौना मेरा परिचय मेरा बचपन मेरा स्मार्टफोन मेरी दुनिया मेरी जिंदगी तेरे नाम मेरी दुनिया मेरी पहली दोस्त मेरे दादाजी मेरे भारत की बेटी मेरे मन की मैं और मेरे खटमल मित्र राम रोटी-कपड़ा और मकान वक्त शकुन्तला शहर शादीशुदा आदमी की हालत सपनो का घर स्वच्छ भारत अभियान स्‍वतंत्रता दिवस हम कैसे जिये हम महान भारतीय हम हैं साथ-साथ हमें जीने दो हरीयाली हिंदी कविता मंच हिन्दी

सर्वाधिक देखी गयी रचनाएं