दिन के तारे





दिन के भी तो तारे होते है,
सही समझे,
कभी ना दिखते ,
लेकिन सुना है सुन्दर होते है,
दिन के तारे|

दूर से खूब चमकते,
बड़े ही सुन्दर होते,
जो पास आकर हो जाते है धुंधले,
दिन के तारे|

आस बड़ी होती है इनसे,
बढ़ी होती उम्मीदे,
धुंधला कर जाते है जीवन,
दिन के तारे|

बड़े से सपने है ये दिखाते,
बड़े-बड़े नारे लगवाते,
क्षणिक सुख का अनुभव करवाते,
दिन के तारे|

अंत मे निराशा देकर,
सपनो को बिखेरकर,
छिप जाते है आकाओं के दामन मे ये,
दिन के तारे|

#MODI #GST #INDIA #meremanke

Post a Comment

Popular posts from this blog

स्वच्छ भारत अभियान

वक्त

डिजिटल इंडिया